Nation Speaks

Ab Bolega Hindustan

नई सरकार के शपथ ग्रहण समारोह के लिए सज गया ऐतिहासिक रिज मैदान, पहली बार प्रदेश को मिला मूछों वाला मुख्यमंत्री

1 min read


हिमाचल में नई सरकार के शपथ ग्रहण समारोह के लिए ऐतिहासिक रिज मैदान एक बार फिर से सज गया है।  दोपहर डेढ़ बजे सुखविंदर सिंह सुक्खू मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ले रहे है।  प्रदेश के इतिहास में पहली बार होगा जब हिमाचल में मुकेश अग्निहोत्री उप मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगे। पहली बार हिमाचल प्रदेश में मूछों वाला मुख्यमंत्री बनने जा रहा है। 

इससे पहले आज तक वाईएस परमार, राम लाल ठाकुर, शांताकुमार, वीरभद्र सिंह, प्रेम कुमार धूमल से लेकर जयराम ठाकुर तक कोई भी मुख्यमंत्री मूछों वाला नहीं रहा है। जयराम ठाकुर के बाद सुखविंदर सिंह सुक्खू भी ऐसे दूसरे मुख्यमंत्री है जो दो बेटियों के पिता है।  सचिवालय में चालक के बेटे सुखविंदर सिंह आज शपथ ले रहे है. इस समारोह में राहुल गांधी, प्रियंका गांधी व खड़गे के आने की संभावना है । 

 

सुखविंदर सिंह सुक्खू का शपथ ग्रहण : प्रियंका और राहुल गांधी दोनों मौजूद रहेंगे 

हिमाचल के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू आज दोपहर डेढ़ बजे शिमला के रिज मैदान में शपथग्रहण करेंगे। इनके साथ प्रदेश के बनने जा रहे पहले डिप्टी CM मुकेश अग्निहोत्री को भी राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाएंगे। इस शपथ ग्रहण में कांग्रेस के आलाकमान मौजूद रहेंगे। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी और AICC महासचिव प्रियंका गांधी भी इस शपथ ग्रहण समरोह में मौजूद रहेंगे। 

सुक्खू ने  हॉली लॉज जाकर प्रतिभा सिंह को न्योता दिया 

सुखविंदर सिंह सुक्खू परदेशा अध्यक्ष प्रतिभा सिंह को उनके आवास हॉली लॉज जाकर शपथ ग्रहण समारोह में आने के लिए न्योता दिया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री बाद में हूं, पहले पार्टी के अंडर हूं। प्रतिभा सिंह मेरी आदर्श हैं।

 

हिमाचल प्रदेश को लगभग नए मुख्यमंत्री मिल चुका है। लम्बे खींचतान के बाद सुखविंदर सिंह सुक्खू का नाम तय हो चुका है। सुखविंदर सिंह सुक्खू नादौन विधानसभा क्षेत्र से जीत कर चौथी बार विधानसभा पहुंचे हैं। इसके अलावा प्रदेश में पहली बार दो डिप्टी सीएम भी मिल सकता है। हालाँकि अभी डिप्टी सीएम का नाम तय नहीं हुआ है। 
सुक्खू के CM रेस में फ्रंटरनर बनते ही CID ने उन्हें CM प्रोटोकॉल में ले लिया था। पुलिस को भी एस्कॉर्ट तैयार रखने के लिए कहा गया था। हालांकि अभी भी प्रतिभा सिंह के खेमे में नाराजगी है 
सांसद होने के चलते कमजोर पड़ी प्रतिभा की दावेदारी
वहीं प्रतिभा सिंह के सांसद होने की वजह से दावेदारी कमजोर पड़ी है, जिसके बाद प्रतिभा अब अपने खेमे के मंत्रियों को लेकर बातचीत कर रही हैं। सूत्रों की मानें तो प्रतिभा सिंह के बेटे विक्रमादित्य सिंह को डिप्टी CM बनाने की मांग की जा रही है। इसके अलावा प्रतिभा सिंह अपने खेमे के विधायकों के लिए ज्यादा मंत्रीपद चाहती हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *