Nation Speaks

Ab Bolega Hindustan

बल्क ड्रग फार्मा  पार्क ने बदल दिए हरोली के समीकरण, जनता ने कहा रोजगार देने वाले को जिताएंगे

1 min read
नेशन स्पीक्स,रंजीत यादव 
हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 को देखते हुए राजनीतिक  पार्टियां जनता को लुभाने के लिए खूब पसीना बहा रही है। कहीं बड़े बड़े घोषणा की जा रही है तो कहीं वादे की जा रही है। वहीं हिमाचल के जनता तय कर चुकी है किसे वोट देना है या किसे बेदखल करना है। बात करें जिला ऊना के हरोली विधानसभा की तो, बल्क ड्रग फार्मा ने हरोली के चुनावी समीकरण को बदल दिया है। नेशन स्पीक्स के ग्राउंड सर्वे से पता चला है कि भाजपा ने कांग्रेस के गढ़ में मेगा प्रोजेक्ट को लाकर कांग्रेस को बैकफुट पर धकेल दिया है। जनता की रुझान भाजपा और पार्टी उम्मीदवार रामकुमार के तरफ देखा गया।  नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री कांग्रेस से चार बार हरोली के जनता ने उन्हें चुनकर विधानसभा भेजा, सरकार में उद्योग मंत्री भी रह चुके हैं। लेकिन हरोली के जनता के उम्मीदों पर खरा नहीं उतरे। ऐसा कहना भाजपा के कार्यकर्ताओं की है । अनुमान लगाया जा रहा है की आने वाले चुनाव में भाजपा हरोली सीट को अपने झोली में डाल सकती है। जयराम सरकार ने 50,000 करोड़ की लागत से बल्क ड्रग फार्मा  पार्क और 20 करोड़ की विकाश परियोजनाओं की मंजूरी देकर भाजपा ने हरोली के लोगो की बड़ी शौगत दी है।
 
आइए जानते है  ड्रग फार्मा पार्क के बारे में 
 ड्रग फार्मा पार्क जिला ऊना की हरोली तहसील के पोलियां, टिब्बीं, मल्लूवाल में 1,405 एकड़ भूमि चिह्नित की जा चुकी है। इस पार्क में जेनेरिक दवाइयां की कच्चा माल तैयार किया जायेगा। वर्तमान में भारत दवाइयों की कच्चा माल के लिए चीन व अन्य देशों पर निर्भर रहना पड़ता था।  सबसे अधिक निर्भरता चीन पर थी।  इस तरह हिमाचल को बल्क ड्रग की सभी जरूरतें उपलब्ध हो जाएंगी और चीन पर निर्भरता न के बराबर होगी।  इससे न केवल हिमाचल बल्कि देश को भी लाभ होगा। अनुमान है कि हिमाचल प्रदेश में सालाना तीस हजार करोड़ रुपए की बल्क ड्रग निर्यात होती थी। अब ये सारी रकम भी बचेगी और हिमाचल के जरिए भारत में बनी दवाएं लागत कम होने से सस्ती भी होंगी।
 
हरोली को क्या मिलेगा 
  हरोली से भाजपा उम्मीदवार रामकुमर ने कहा कि प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष  रूप में करीब 80 हजार लोगो को रोजगार मिलेगा। जिसमे 70 प्रतिशत स्थानीय और हिमाचल के लोगो को रोजगार दी जाएगी।  उन्होंने बताया कि पार्क बन जाने से  हरोली के लोगो की आय डबल हो जाएगी। अप्रवासी कामगार रोजमर्रा सामानों के लिए स्थानीय लोगों पर निर्भर रहेंगे  जिससे उनकी आय दोगुनी होगी।  समझने के लिए… जितने भी कामगार बाहर से आएंगे वे दूध, सब्जी, रूम,किराना दुकान के सामान के लिए स्थानीय लोगो से लेंगे। इसके अलावा होटल, फ्लैट ,ढाबा ,गेस्ट रूम का निर्माण करके आय का ज़रिया  बनेगा। 
 
पिछले सरकार में हरोली को क्या मिला 
कांग्रेस सरकार में अहम जिम्मेदारी निभाने वाले नेता प्रतिपक्ष के नेता मुकेश अग्निहोत्री का हरोली विधानसभा सीट गढ़ रहा है। लगातार चार बार जनता ने उन्हें चुन कर विधानसभा भेजा। लेकिन उनके  कार्यकाल में हरोली के जनता को विकास  और रोजगार में पीछे छूट गयी। इस दौरान लगभग 25 00 करोड़ की इन्वेस्टमेंट आई। लेकिन धरातल पर कुछ ही इन्वेस्टरों ने प्लांट लगाया और बाद में कुछ उद्योग पर ताला लग गया।  
 
 
हरोली में ड्रग पार्क का आगमन 
भाजपा नेता रामकुमार ने कहा कि केंद्र सरजकार और प्रदेश सरकार के अलावा हरोली के ग्रामीण किसानो को अहम योगदन है। बल्क ड्रग्स पार्क 1405 एकड़ भूमि पर बन रहा है। सम्भवता: प्रदेश सरकार की भूमि है लेकिन सौ एकड़ भूमि स्थानीय ग्रामीण किसानो का है। अगर किसान अपनी भूमि को देने से मना किए होते तो हरोली में पार्क का बनना असंभव था। ग्रामीणों ने बिना पैसा लिए प्रदेश सरकार को भूमि अधिग्रहण के लिए मंजूरी दे दी। इसके अलावा केंद्र सरकार के पास ड्रग फार्मा पार्क के लिए सभी राज्यों से प्रपोजल गया था। वहीं हिमाचल से हरोली का नाम पर केंद्र सरकार ने अप्रूवल दिया ,इसके लिए हरोली और भाजपा की टीम ने दिन रात मेहनत करके मात्र तीन महीने के अंदर सभी डॉकूमेंटशन और प्रेजेंटेशन को तैयार किया गया। और आखिर में सभी राज्यों को पछाड़ का हिमाचल के झोली में प्रोजेक्ट आई । 

न मंत्री न विधायक फिर भी करके दिखाया 
भाजपा के स्थानीय नेता रामकुमार  ने कहा कि हिमाचल में ड्रग्स पार्क का बनना हिमाचल के लिए गर्व की बात है। प्रदेश सरकार एवं केंद्र सरकार के वजह से संभव हो पाया। उन्होंने आगे कहा कि हरोलीवासी व् स्थानीय प्रशासन ने भी कबीले तारीफ़ कार्य किया। वहीं कांग्रेस ने पार्क बनने से रोकने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगाया। वन माफियाओं के साथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने प्रोजेक्ट को रोकने के लिए उपायुक्त को ज्ञापन सौंपा था। वहीं कांग्रेस नेता व वर्तमान नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्नहोत्री के करीबी ने प्रोजेक्ट को रोकने के लिए हाई कोर्ट में गुहार लगाई। लेकिन हमारे सफल प्रयास से आज बल्क पार्क बनने वाला है। 
 
हरोली विधानसभा के बारे में जाने
हरोली विधानसभा सीट हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले में आती है। 2017 में हरोली में कुल 54.44 प्रतिशत वोट पड़े। 2017 में भारतीय राष्ट्रीय का‍ँग्रेस से मुकेश अग्निहोत्री ने भारतीय जनता पार्टी के राम कुमार को 7377 वोटों से पराजित हुए।  है।  इस संसदीय क्षेत्र से सांसद हैं अनुराग ठाकुुुर, जो भारतीय जनता पार्टी से हैं। उन्होंने इंडियन नेशनल कांग्रेस के राम लाल ठाकुर को 399572 से हराया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © 2022 | Newsphere by AF themes.
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)