Nation Speaks

Ab Bolega Hindustan

बोर्डेर एरिया में अब सरकारी तैयारी, अवैध खनन करने वालों की ख़ैर नहीं

अवैध खनन रोकने के लिए राज्य के सीमावर्ती क्षेत्र पर खनन महकमे की पैनी नजर
पड़ोसी राज्यों से सटी है करीब 31 किलोमीटर लंबी सीमा, सरकार को भेजा स्टाफ तैनाती का प्रस्ताव जल्द स्वीकृति की उम्मीद
प्रदेश की सीमावर्ती सिरमौर जिला में अवैध खनन रोकने के लिए खनन महकमा गंभीर है और विशेष रणनीति के तहत ऐसे इलाकों पर नजर रखी जा रही है जहां अवैध खनन की गतिविधियां सामने आती है। उत्तराखंड राज्य की सीमा से सटा पांवटा साहिब ऐसा क्षेत्र है जहां अक्सर अवैध खनन की शिकायत आती है पांवटा साहिब की करीब 31 किलोमीटर लंबी सीमाएं हरियाणा व उत्तराखंड से सटी है यहां अक्सर अवैध खनन कारी सक्रिय रहते है। जिला खनन अधिकारी सुरेश भारद्वाज ने बताया कि पुलिस व वन विभाग के सहयोग से खनन महकमा अवैध खनन गतिविधियों पर पूरी नजर रखे हुए है ताकि अवैध खनन ना हो सके। उन्होंने माना कि पड़ोसी राज्य से सीमाएं सटी होने के कारण यहां अवैध खनन रोकना हमेशा एक बड़ी चुनौती रहता है। वही खनन विभाग पावटा साहिब क्षेत्र में स्टाफ की कमी से भी जूझ रहा है। जिला खनन अधिकारी सुरेश भारद्वाज ने बताया कि स्टाफ की कमी को लेकर प्रदेश सरकार को प्रस्ताव भेजा गया है और उम्मीद है कि जल्द जहां अतिरिक्त स्टाफ की तैनाती कर दी जाएगी ।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *